Study Abroad - ( विदेश में अध्ययन )


Study Abroad

विदेश में अध्ययन


        प्रत्येक स्टूडेण्ट के लिए विदेश मे अध्ययन का ख्वाब रहता है, क्योकि अध्ययन से इज्जत,सम्मान और भविष्य बनाने की सम्भावनाएं ज्यादा हो जाती है, विदेशो मे भी अमरीका, इंगलैण्ड, कनाडा, आस्ट्रेलिया और जर्मनी आदि देशो मे ज्यादा जाना चाहते है विदेशो मे अध्ययन सम्बन्धी जानकारी न होने के कारण वे इस चांस से वंचित रह जाते है उनके सामने वीजा कैसे मिलेगा, प्रवेश कैसे होता है खर्चा कितना आता है और अध्ययन की क्या प्रक्रिया है ? जैसी समस्याएं आती है विदेशो मे अध्ययन स्नातक और स्नातकोत्तर दोनो स्तरो पर करवाया जाता है इसके अलावा मेडिकल, कानून, प्रबन्धन आदि का अध्ययन भी कर सकते है विदेशो मे अध्ययन करने के लिए पहली आवश्यकता यह है कि आपका शैक्षिक रिकार्ड उत्तम होना चाहिए। इसके अलावा अगर आप स्नाकोत्तर करना चाहते है तो आपकी उस विषय विशेष की पृष्ठिभूमि होनी जरूरी है
        Study abroad is the dream for each student. Studying abroad provides higher education and provides professional capabilities to students who like to study in America, England, Canada, Australia, Germany. Students prefer almost all parts of the world to prusue their education by America, England, Canada, Australia, Germany, New Zealand, Singapore are the most favoured by majority. Government and non governmental agencies offer various grants, fellowship and financial aids for carrying out the various study programs.
        इसके बाद स्तर विशेष और कोर्स विशेष के लिए कुछ क्वालीफाइंग परीक्षाएं होती है, जिनसे गुजरने के बाद ही संस्था मे प्रवेश ले सकते है–

टेस्ट ऑफ इंग्लिश एज फॉरेन लैग्वेज (टोएफएल)
Test of English as Foreign Language (TOEFL)

ग्रेजुएशन रिकार्ड एक्जामिनेशन (जीआरइ) टेस्ट
Graduation Record Examination Test (GRE)

ग्रेजुएट मैनेजमेट एजुकेशन टेस्ट (जीमैट)
Graduate Management Education Test (GMAT)

Experience Career Notion on Mobile Now

We are pleased to launch the Career Notion Android App.
Career Notion App is available for download from Google Play Store.

Get Our Android App
© 2017 - CareerNotion, All Rights Reserved